रात 10.45 बजे

रोहन- हेलो प्रिया, कैसी हों ?

प्रिया- अच्छी हूँ, इतने महीनों बाद आज कैसे याद किया ।

रोहन - याद तो उन्हें किया जाता हैं, जिन्हें हम भूल जाते हैं ।

प्रिया- तुम अभी भी वैसे ही हों, बिलकुल नहीं बदले ।

रोहन- कभी तुम्हें मैं ऐसे ही पसंद था, याद है या भूल गई ?

प्रिया- 'कभी', past tense!

रोहन- चलो, प्रेजेंट की बात कर लेते हैं । मैं तुमसे मिलना चाह रहा था

प्रिया -- क्यों ? कोई ख़ास वज़ह ?

रोहन-- दोस्तों से मिलने के लिए किसी वज़ह की ज़रूरत होती है?

प्रिया - सुनकर अच्छा लगा कि हम फ़िर से दोस्त बन गए हैं, वरना तुमने तो मुझे ब्लॉक ही कर दिया था, और आज तुम्हारा मैसेज देख लगा शायद नाराज़गी ख़त्म हों गई

रोहन-- तुम्हारे उस आखिरी गुडबाय के मैसेज के बाद तुम्हें क्या लगता था, मैं तुम्हें गुड मॉर्निंग, गुड नाईट के मैसेज करता

प्रिया -- ओह ! मैं समझती हूँ , पर तुमने वो लाइन्स सुनी हैं न वो "अफ़साना जिसे अंजाम तक लाना ना हो मुमकिन, उसे एक खूबसूरत मोड़ देकर छोड़ना अच्छा" । ।

रोहन-- दिल मेरा टूटा हुआ है और शायरी तुम सीख गई

प्रिया- तुम्हारा दिल कोई काँच का टुकड़ा नहीं है, जो इतनी आसानी से टूट जाए । ज़िन्दगी कब किस से मिला दे, कुछ कहा नहीं जा सकता ।

रोहन - दिल को तस्सली देने के लिए ग़ालिब यह ख़याल भी अच्छा है । खैर छोड़ो! मैं तुमसे मिलने के लिए कह रहा था ।

प्रिया -- ठीक है, बताओ कहाँ मिलना हैं ?

रोहन- कल शाम चार बजे सी.पी. के कैफ़े कॉफी डे में । आऊँगी ???

प्रिया -- ठीक हैं, कल मिलते है । गुडनाईट।

रोहन - गुडनाईट । मैं इंतज़ार करूँगा ।

अगले दिन ------

प्रिया--सॉरी रोहन, मैं आज नहीं आ सकती। आज हम सब इंटर्न्स की मीटिंग ही चार बजे हैं । फ़िर कभी मिल सकते हैं ?

रोहन -- मिल तो सकते हैं, पर कब वो मैं नहीं बता सकता ।

प्रिया -- क्या हम रात को बात करें ? ऑफिस में कैमरे हैं और फ़ोन यूज़ करना मना हैं।

रोहन -- जैसी तुम्हारी मर्ज़ी । बाय !

रात 10 बजे :::

प्रिया -- रोहन? सो तो नहीं गए ?

रोहन -- नहीं अभी आँखों में नींद कहाँ । तुम बाताओ कैसी रही तुम्हारी इम्पोर्टेन्ट मीटिंग ??

प्रिया - ठीक थीं, नाराज़ तो नहीं हों ?

रोहन --- नहीं, अब रूठ भी जाऊँगा तो तुम कौन सा मनाने वाली हों ।

प्रिया -- मैं तो पहले भी कभी नहीं मनाती थीं

रोहन ---पहले तुम ही झगड़ा करती थीं, इसलिए मनाता भी मैं ही था ।

प्रिया--- क्या हम आज की बात कर सकते हैं ?

रोहन- आज बात करने के लिए ही बुलाया था, मगर तुम्हारे पास वक़्त ही नहीं हैं

प्रिया-- ऐसा नहीं हैं, यह कॉलेज नहीं है कि क्लॉस बंक कर तुम्हारे बुलाने पर आ जाओं । ऑफिस लाइफ बड़ी ही हेक्टिक हैं ।

रोहन --- कोई नहीं, मैं समझ सकता हूँ । पर अगर तुम कहती तो मैं तुम्हे ऑफिस के बाद कहीं भी मिल जाता ।

प्रिया --- मुझे नहीं पता था कि कितनी देर लगेगी, और तुमसे कोई झूठा प्रॉमिस नहीं कर सकती ।

रोहन -- इसका मतलब पहले जितने प्रॉमिस किये थें, सब झूठे ही थें ?

प्रिया -- मुझे लगता है, हम दोस्त नहीं रह सकते हैं ।

रोहन --- मुझे भी यही लगता है। गुड नाईट ।

प्रिया-- गुडनाईट ।

थोड़ी देर बाद.-----------

प्रिया ---- रोहन! ठीक है, अब बता दो कि क्यों बुला रहे थें?

रोहन--- रात बहुत हों गई है और तुम्हें कल ऑफिस भी जाना होगा।

प्रिया-- हाँ, जाना हैं । मगर मुझे पता है, तुम्हारी आँखों में नींद कहाँ ।

रोहन -- ऐसा कुछ नहीं है , मैं भी सोने ही जा रहा हूँ । वैसे भी कल इंदिरा गांधी एयरपोर्ट से सुबह ग्यारह बजे की मेरी फ्लाइट है।

प्रिया --फ्लाइट ? कहीं जा रहे हों ?

रोहन -- मेरी कंपनी मुझे अमेरिका भेज रही है।

प्रिया- वाह ! तुमने इंटर्नशिप में इतनी तरक्की कर ली । मुबारक हों ! कब आओंगे ??👌👍

रोहन -- पता नहीं, दो साल जॉब के साथ वहीं आगे की पढ़ाई करूँगा और उसका सारा खर्चा कंपनी खुद उठाएँगी।

प्रिया -- तभी आज मिलने के लिए बुला रहे थें ?

रोहन -- हाँ , ज़ख़्म हों या रिश्ता कभी खुला नहीं रखना चाहिए । मैं तुम्हारी तरफ़ से अपना मन साफ़ कर यहाँ से जाना चाहता था।

प्रिया -- तुम तो ऐसे बात कर रहे हों, जैसे कभी लौटकर ही नहीं आओंगे ?

रोहन- तुम लौटकर आई ? नहीं । फ़िर मैं अपना कैसे कह सकता हूँ।

प्रिया ---तुम अपने साथ हमारी कड़वी यादें लेकर जाओंगे न ?

रोहन -- जो तुमने दिया है, वहीं लेकर जाऊँगा । मगर अब सोच लिया है, ज़िंदगी में आगे बढ़ना हैं । वरना ज़िन्दगी से शिकायतें बढ़ती जाएँगी

प्रिया--- I AM SORRY ROHAN😔😔

रोहन-- ITS OK PRIYA! GUDNIGHT 😊🌚

कल सुबह आठ बजे ---

प्रिया-- गुडमॉर्निंग!

रोहन --- गुडमॉर्निंग! इतनी जल्दी ऑफिस ?

प्रिया -- रास्ते में हूँ अभी । तुम कहाँ पहुँचे ?

रोहन ---मैं भी रास्ते में हूँ। दो घंटे एयरपोर्ट पर ही लग जायेंगे । सुबह बॉस का फ़ोन आया था कि फ्लाइट 11 बजे की नहीं 10 . 30 बजे की है

प्रिया -- वैसे भी अमेरिका बहुत दूर हैं।

रोहन --- हाँ, वो तो है ।

प्रिया -- मैं तुम्हारे लिए बहुत खुश हूँ। हमेशा ऐसे ही लाइफ में आगे बढ़ते रहो।👍💐

रोहन -- मुझे सुनकर अच्छा लगा कि तुम ख़ुश हों, कम से कम मैंने तुम्हें कभी उदास नहीं किया।😎

प्रिया -- अब ऐसी बातें करके तुम मेरा दिल दुखा रहे हों।😶😔

रोहन -- ठीक है! ठीक है ! मेरे ऐसा कोई इरादा नहीं है , मैं नहीं चाहता तुम्हारा मूड ख़राब हों। तुम आराम से ऑफिस जाओ ।😷

प्रिया --कहाँ पहुँचे ?

रोहन -- बस पहुँचने वाला हूँ । तुम पहुँच गई ?

प्रिया -- मुझे भी अभी टाइम लगेगा । फ्लाइट में फ़ोन बंद हों जाएगा ?

रोहन- हाँ, फ़ोन बंद भी हों जाएगा और कम्पनी मुझे नया नंबर देंगी। मैं अब वही यूज़ करूँगा

प्रिया -- इसका मतलब हमारी यह आख़िरी चैट है ?

रोहन-- वो नंबर फ्री है । इस नंबर को यूज़ करने का कोई मतलब नहीं बनता

प्रिया -- तुमने मेरी बात का ज़वाब नहीं दिया । यह हमारी आख़िरी चैट है ?

रोहन -- शायद हाँ

प्रिया--फ़िर आख़िरी बार मिलना तो बनता हैं

रोहन -- अब बहुत देर हों गई। अब ऐसा कोई रास्ता नहीं है, जो तुम तक जाए

प्रिया-- रास्ता भले ही कोई है । मगर मैं तुम्हारी मंज़िल के बीच में खड़ी हूँ

रोहन ---????? समझा नहीं 😇

प्रिया -- मैं एयरपोर्ट के बाहर तुम्हारा इंतज़ार कर रही हूँ । जल्दी आओ

रोहन ---क्या ???? मज़ाक कर रही हों ?🤔

प्रिया -- नहीं, बिलकुल नहीं । हाथ में एक गिफ़्ट लिए बाहर मैन गेट पर खड़ी हूँ 🎁

रोहन --- गिफ़्ट ?? उसकी क्या ज़रूरत हैं ? तुम वहाँ आ गई, यही सरप्राइज काफ़ी है 🥳🤗

प्रिया -- हमारी कुछ अच्छी यादें भी तो जानी चाहिए तुम्हारे साथ

रोहन- सारी शिकायत आधे घंटे में ख़त्म कर दोंगी ?

प्रिया-- कोशिश तो की जा सकती है । और वैसे भी मैं अपने दोस्त को उदास जाते नहीं देख सकती

रोहन -- अब मैं उदास नहीं हूँ 😊

प्रिया -- फ़िर जल्दी पहुँचो । यहाँ एक ग्रीन शर्ट मैं खड़ा लड़का मुझे घूरे जा रहा हैं 😀🙃🤑

रोहन -- ग्रीन शर्ट वाले को नहीं पता कि वो किस मुसीबत को देख रहा है 🤪😆

प्रिया --- वैरी फनी ! गाड़ी की स्पीड पर ध्यान दो अब । यह न हों मैं बोर होकर तुमसे बिना मिले ही वापिस चली जाओ 😚😚

रोहन-- यहाँ तक आ गई हों तो वापिस नहीं जाऊँगी । इतना तो मुझे पता हैं 😎🙃

रोहन - भैया गाड़ी थोड़ा तेज़ चलाओ । मेरी दोस्त मेरा इंतज़ार कर रही हैं ।

समाप्त